“सिर्फ एक क्लिक में” 23 मई हिमाचल प्रदेश हिंदी न्यूज़ दिनभर की सभी बड़ी खबरें पढ़े और शेयर करें|

0
92
alloverindia.in 23 may 2020 hindi news himachal
alloverindia.in 23 may 2020 hindi news himachal
समाचार जिला शिमला से
जिला शिमला के ढारे में गुरुवार देर रात आग लगने से दो साल का मासूम जिंदा जला

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में ढली थाने के तहत डाक बंगला के पास ढारे में गुरुवार देर रात आग लगने से दो साल का मासूम जिंदा जल गया। ढारे में नेपाली शांत बहादुर, उसकी पत्नी और उनके छह बच्चे रहते थे। जब आग लगी, तब ढारे में बच्चे मौजूद थे, जबकि उनके माता-पिता काम पर बाहर गए थे। आग लगने पर पांच बच्चे बाहर निकल आए, लेकिन दो साल का मासूम निखिल ढारे के अंदर ही आग की लपटों से घिर गया। आसपास के लोग जब तक निखिल के पास पहुंचे, वह बुरी तरह झुलस चुका था, उसने कुछ देर बाद ही दम तोड़ दिया।

आईजीएमसी में पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। छोटा शिमला से अग्निशमन विभाग के बचाव दल के घटनास्थल पर पहुंचने से पहले ही लोगों ने आग पर काबू पा लिया था। इस कारण बचाव दल को आधे रास्ते से ही लौटा दिया। एएसपी प्रवीर ठाकुर ने बताया कि फोरेंसिक टीम ने मौके का निरीक्षण कर साक्ष्य जुटाए हैं। मामला दर्ज करने के बाद पुलिस की जांच जारी है।

समरहिल क्षेत्र में तीन दुकानें जलीं, लाखों रुपये की क्षति राजधानी के समरहिल क्षेत्र में शुक्रवार रात करीब दो बजे एक चाइनीज फूड दुकान और इसके साथ एक सब्जी तथा कबाड़ का शेड जलकर राख हो गया। इसमें करीब दो लाख का नुकसान बताया जा रहा है। घटना के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। जानकारी के मुताबिक रात दो बजे सूचना मिलने के बाद बालूगंज फायर स्टेशन से एक वाटर टेंडर और एक बाउजर माल रोड से वाटर टेंडर के साथ सब फायर ऑफिसर सुधाकर की अगुवाई में मौके पर पहुंचे। अग्निशमन विभाग के बचाव दल ने पुलिस जवानों के साथ मिलकर कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। ढाबे में रखे दो सिलिंडर को समय रहते बाहर निकाल लिया था जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया|

समाचार जिला हमीरपुर से
जिला हमीरपुर में आज कोरोना के 14 नए मामले, प्रदेश में 166 पहुंचा आंकड़ा

जिला हमीरपुर में दूसरे दिन भी कोरोना के 14 नए मामले सामने आए हैं। जिसमें से 9 कोरोना संक्रमित व्यक्ति उपमंडल नादौन से संबंधित हैं। जबकि दो हमीरपुर और एक बड़सर उपमंडल से संबंधित कोरोना संक्रमित सामने आया है। इनमें से 10 संस्थागत क्वारंटीन सेंटर में रह रहे थे। जबकि दो लोगों की जानकारी जुटाई जा रही है।

कोरोना संक्रमित लोग हाल ही में बाहरी राज्यों से लौटे हैं। बीते गुरुवार को जिला हमीरपुर में एक ही दिन में कोरोना संक्रमण के 31 मामले सामने आए थे। जिला में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की कुल संख्या 60 पहुंच गई है। जिसमें से चार लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि गलोड़ निवासी एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है। जिला में अब कोरोना के सक्रिय मामले 55 हो गए हैं।

उपायुक्त हमीरपुर हरिकेश मीणा ने कहा कि शुक्रवार को जिला में कोरोना संक्रमण के 14 नए मामले सामने आए हैं। इन सभी लोगों को कोविड-19 केयर सेंटर में शिफ्ट कर दिया गया है। प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 166 पहुंच गई है, जिनमें 104 सक्रिय हैं और 59 स्वस्थ हो चुके हैं। कोरोना से तीन लोगों की मौत हो चुकी है।

समाचार जिला कांगड़ा से
जिला कांगड़ा पंचरुखी पुलिस थाना में कोरोना पॉजिटिव पुलिस कर्मी ठीक पहुंचने पर पुलिस कर्मी पर बरसाए फूल

हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के पंचरुखी पुलिस थाना में कोरोना पॉजिटिव पुलिस कर्मी ठीक होकर शुक्रवार को कोरोना को हराकर घर लौट आया है। पुलिस कर्मी का प्रशासन, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग और गांव ब्रोहल के लोगों ने इनका स्वागत किया। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने पुलिस कर्मी को पुष्प और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। पंचरुखी के लोग कोरोना योद्धा का स्वागत करने के लिए पहुंचे थे। रेलवे स्टेशन में आर्मी बैंड की धुन से राजाराम का स्वागत किया गया। प्रशासन ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की ओर से पुलिस कर्मी को भेजी गई सेब की पेटी और गुलदस्ता दिया। राजाराम एक सप्ताह तक होम क्वारंटीन रहेंगे। उसके बाद स्वास्थ्य लाभ लेकर अपने काम पर लौटेंगे।

एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन ने भी राजा राम का स्वागत कर राहत राशि का चेक भेंट किया गया। हौसलाअफजाई करने के साथ पालमपुर के डीएसपी अमित शर्मा ने भी अपनी टीम की ओर से पुलिस कर्मी का स्वागत किया। सीएमओ ने भी कोरोना योद्धा का स्वागत किया। वहीं, ब्रोहल गांव के लोगों ने घर आए पुलिस कर्मी पर फूल बरसाए। इस मौके पर गदियाडा पंचायत की प्रधान जगदंबा देवी व बाजार की कमेटी के प्रधान सुरेश ठाकुर और लदोह प्रधान चैन सिंह व पंचरुखी के बीडीओ राजेश्वर भाटिया मौजूद रहे।

शहरी विकास मंत्री ने कोरोना से जंग जीतने वाले को सम्मानित किया शहरी विकास मंत्री सरवीण चौधरी शुक्रवार को कोरोना से सबसे पहले जंग जीतने वाले लंज के दिनेश कुमार से मिलने पहुंची। इस मौके पर मंत्री ने घर पहुंचकर दिनेश और उसके परिवार को पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित किया। उन्होंने लोगों को संदेश दिया कि हमें करोना से लड़ना है करोना के मरीज से नहीं।

हिमाचल प्रदेश सरकार का फैसला
हिमाचल प्रदेश में स्कूल खोलने के लिए सही समय पर लेंगे फैसला लेंगे शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज

हिमाचल प्रदेश के शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि स्कूलों को खोलने का फैसला सही समय पर लिया जाएगा। सरकार अपनी जिम्मेवारी को बखूबी समझती है। अभी हम स्कूल खोलने की स्थिति में नहीं है। इसके चलते ही 31 मई तक छुट्टियां की गई हैं।

स्कूल खोलने के लिए कई तरह के सुझाव प्राप्त हुए हैं। कुछ कक्षाएं एक दिन, कुछ अगले दिन, सुबह या शाम की शिफ्ट, छठी से जमा दो कक्षा शुरू करने और बोर्ड कक्षाओं के लिए ही स्कूल खोलने सहित कई अन्य सुझाव प्राप्त हुए हैं। सभी सुझावों पर विचार चल रहा है। हमें एक सही निर्णय के समय का इंतजार करना चाहिए|

हिमाचल प्रदेश सरकार का फैसला
स्कूलों में क्वारंटीन नहीं होंगे बाहरी राज्यों से लौटे लोग अन्य जगह शिफ्ट करने के निर्देश

प्रदेश के शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा बाहरी राज्यों से हिमाचल लौट रहे लोगों को अब स्कूलों में संस्थागत क्वारंटीन नहीं किया जाएगा। सरकार ने स्कूलों को खाली कर वहां रखे गए लोगों को जल्द से जल्द अन्य स्थानों में शिफ्ट करने के निर्देश दिए हैं। शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने बताया कि सरकारी स्कूलों को जल्द ही सैनिटाइज कर सुरक्षित किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि स्कूलों को खाली करने का यह मतलब ना निकाला जाए कि कक्षाएं शुरू होने जा रही हैं। उन्होंने कहा कि स्कूलों को खोलने का फैसला केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के आने के बाद प्रदेश में पब्लिक ट्रांसपोर्ट शुरू होने और कोरोना की चेन कम होने पर ही लिया जाएगा। प्रदेश में करीब 200 स्कूलों को विभिन्न जिलों में कोरोना वायरस से बचाव के लिए संस्थागत क्वारंटीन केंद्र के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है।

स्कूलों में शौचालयों की कमी, पीने के पानी की समस्या सहित अन्य समस्याओं को लेकर आए दिन प्रदेश भर से शिकायतें आ रही हैं। इसके अलावा आने वाले दिनों में संस्थागत क्वारंटीन केंद्र बनाए गए स्कूलों को खोलना भी मुश्किल बना हुआ था। ऐसे में शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने मुख्यमंत्री के समक्ष इस मामले को उठाया। उन्होंने कहा कि स्कूलों में लोगों को ठहराने के लिए पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। आने वाले दिनों में जब भी स्कूल खोले जाएंगे तो बच्चों के मन में एक भय सा बना रहेगा। ऐसे में स्कूलों में संस्थागत क्वारंटीन किए गए लोगों को अन्य स्थानों में शिफ्ट कर स्कूलों को समय रहते सुरक्षित करने की जरूरत है।

समाचार जिला कांगड़ा से
जिला कांगड़ा में पिता-पुत्र ने खाया जहर अस्पताल ले जाते समय बाप की मौत

हिमाचल के जिला कांगड़ा के डमटाल के मोहटली में शुक्रवार को बाप-बेटे ने जहरीला पदार्थ खा लिया। गंभीर हालत में दोनों को इलाज के लिए पठानकोट अस्पताल ले जाया गया, लेकिन बाप की रास्ते में ही मौत हो गई। वहीं, बेटे का पठानकोट के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा हैं। यह अभी बयान देने की हालत में नहीं है। मोहटली निवासी प्रदीप कुमार (45) पुत्र विजय कुमार तहसील इंदौरा और उसके बेटे ने कोई जहरीला पदार्थ खा लिया।

पुलिस ने आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। डमटाल पुलिस थाना प्रभारी हरीश गुलेरिया ने बताया कि दोनों ने डमटाल गौशाला के पास कोई जहरीला पदार्थ पीने से प्रदीप कुमार की मौत हो गई है। बेटा जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहा है। व्यक्ति डमटाल मे करियाना की दुकान करता है। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। मृतक के शव को पोस्टर्माटम के लिए नूरपुर अस्पताल भेज दिया गया है।

समाचार जिला कुल्लू से
जिला कुल्लू में महिला ने खाया जहरीला पदार्थ हालत गंभीर

कुल्लू जिले के उपमंडल बंजार की ग्राम पंचायत नोहांडा के पेखड़ी गांव की एक महिला ने जहरीला पदार्थ खा लिया। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह घर में महिला की अचानक तबीयत बिगड़ी। परिजन उसे बंजार अस्पताल लाए। प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने महिला को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। महिला की गंभीर हालत के चलते पुलिस अभी बयान नहीं ले सकी है। बंजार पुलिस थाना प्रभारी नरेश शर्मा ने मामले की पुष्टि की। कहा कि पुलिस ने मामला दर्जकर छानबीन शुरू कर दी है।

See Something Here Important

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.