Public Request With Deputy Commissioner of Bilaspur Himachal Pradesh

0
301
village sounkhar local road at alloverindia.in
deputy commissioner

आज भी गाँव के लोग उजागर नहीं हुए हैं। हिमाचल प्रदेश जिला बिलासपुर तहसील घुमारवीं के अन्तर्गत सौंखर गाँव आता है यह गाँव दो भागों में आता है अपर सौंखर और इनर सौंखर दोनों गावों के लिए 2005 में बीजेपी की अगुवाई में सड़क का निर्माण किया गया जिसके लिए घुमारवीं ब्लॉक और पंचायत की तरफ से 6,00,000 लाख रुपए खर्च किए गए। और गाँव के लोगों ने सड़क निकालने में मदद भी की। लेकीन आज स्थिति इसके बिल्कुल विपरीत बन चुकी है जीन लोगों ने सड़क निकालने के लिए अपने घरों तक को गिरवाया था उनमें आज मतभेद आये दिन होते रहते हैं। इसका सबसे बड़ा कारण यह भी है की जब 2005 में इस सड़क का निर्माण हुआ था उसके बाद अख़बार में समाचार भी निकाला गया था की इस सड़क को पका करवाया जाए लेकिन आज तक यह सड़क पकी नहीं हो पाई है। श्री मति नीलमा देवी आये दिन अपने निजी स्वार्थ के लिए इस सड़क को बंद कर देती है। जब पुलिस में इसकी शिकायत की जाती है तो पुलिस समझौता करवा देती है परन्तु गाँव के लोग हमेशा इसके ऊपर चुपी बनाये रखते हैं। गाँव में 300 से ज्यादा की जनसंख्या है महिला मंडल भी बना हुआ है।

16.10.2015 को श्री मति नीलमा देवी ने सड़क के बीचों बीच पत्थर रखकर लोगों के परेशानी खड़ी कर दी। इसके बारे में पुलिस को 22.10.2015 को लिखित रूप में शिकायत पत्र भेजा गया और पुलिस 30.10.2015 को इस सड़क को खुलवाने के लिए आई जिस दिन करवा चौथ था और गाँव में खूब बबाल हुआ। हम जिला बिलासपुर की डिप्टी कमिसनर Deputy Commissioner जी से विनती करते हैं की प्रदेश के हर गाँव में एक एक कैंप लगवाया जाए और लोगों को जागरूक होने का हौसला दिया जाए कुछ एक लोग होते है जिनकी बजह से सारे गाँव के लोगों को मुसीबत उठानी पड़ती है लेकिन गाँव के लोग आबाज नहीं उठाते और पुलिस भी ऐसा बुरा काम करने वाले लोगों का साथ देती है।

इस संदर्भ के अन्तर्गत हम पहले ही SHO भराड़ी, SDM घुमारवीं, DSP घुमारवीं और DC बिलासपुर को एक शिकायत पत्र लिख चुके हैं। हिमाचल प्रदेश में सरकारी सेवाएं बिल्कुल डगमगा चुकी हैं अगर वक्त रहते इन समस्याओं को नहीं सुलझाया गया तो आने वाले समय में ये भयंकर रूप धारण कर सकती हैं।