कोरोना के खिलाफ जगं की हकीकत भारत में लॉकडाउन थर्ड पार्ट 4 मई से क्यों लागु करना पड़ा पूरा विश्लेषण ध्यान से पढ़े|

4
266
The reality of the war against Corona, why India started lockdown third part from May 4, read the full analysis carefully
The reality of the war against Corona, why India started lockdown third part from May 4, read the full analysis carefully

भारत में सब लोग यही सोच रहे थे कि 4 मई को लॉकडाउन खुल जायेगा और आप पहले की फिर वैसी ही जिंदगी जीना शुरू कर पायेंगे| लेकिन अब ऐसा नहीं होगा क्योंकि सरकार ने अब लॉकडाउन को 4 मई से लेकर 17 मई और बढ़ा दिया है अब फिर से सभी भारतीयों को एक जुट होकर अगले 14 दिनों के लॉकडाउन का पालन करना होगा| लॉकडाउन थर्ड पार्ट के 14 दिनों को कुल मिलाकर अब तक भारत में 54 दिनों का लॉकडाउन हो जायेगा| पहली बार जब लॉकडाउन हुआ था तब 21 दिनों का था दूसरी बार 19 दिनों का और अब 14 दिनों का लॉकडाउन दोबारा से होगा| सरकार का सभी भारतीयों से कहना है कि अभी 14 दिन और लॉकडाउन में गुजारने होंगे|

कोरोना वॉयरस के खिलाफ अगले 14 दिनों के लॉकडाउन में कुछ बहुत बड़े बदलाव किये गए हैं| रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन की शर्तो के साथ सब लोगों को कुछ रियायतें जरूर दी जायेंगी जिनके बारे में आप यहाँ पढ़ेंगे|

सबसे पहले ये जानना बहुत जरुरी है कि सरकार को इतना बड़ा फैसला क्यों लेना पड़ा|

First of All, It Is Very Important To Know Why The Government Had To Take Such A Big Decision




सबसे पहली बात तो यह है कि अब तक के 6 हप्तों के लॉकडाउन से भारत को कोरोना के खिलाफ नियंत्रण से बहुत हद तक सफलता मिली हैं| लेकिन अगर 3 मई को पुरे देश में लॉकडाउन नहीं बढ़ाया होता तो कोरोना के केस और भी तेजी से बढ़ने लगते जिन्हें कंट्रोल करना मुश्किल होता इसलिए लॉक डाउन को पूरी तरह नहीं हटाया गया है|

दूसरी वजह यह है कि 27 अप्रैल को प्रधानमंत्री के साथ बैठक में ज्यादातर राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन को बढ़ाने की अपील की थी अगर प्रधानमंत्री जी के साथ यह बैठक नहीं होती तो भी कुछ राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने अपने अपने राज्यों में लॉकडाउन को जारी रखना था|

तीसरी वजह यह है कि देश में कोरोना के मामले अब भी बढ़ रहे हैं| दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, मध्यप्रदेश, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में अब तक 2000 से लेकर 10000 तक कोरोना के केस आ चुके हैं|

चौथी वजह यह है कि सरकार अब यह नहीं चाहती की कोरोना तीसरी स्टेज तक पहुंचे जो सबसे खतरनाक है| तीसरी स्टेज में कोरोना से समुदायों में संक्रमण फैलने लगता है अंग्रेजी में इसे Community Transmission कहते हैं| पिछले करीब एक हप्ते से हर दिन कोरोना के 1500 से 2000 नये केस आ रहे हैं| इसलिए सरकार को लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लेना ही पड़ा|

पांचवी वजह यह है की लॉकडाउन को हटाते ही बड़े पैमाने पर लोगों की आवा जाहि शुरू हो जाती और संक्रमण के शिकार कई लोग ऐसे राज्यों में पहुँच जाते जहां अभी हालात नियंत्रण में है|

इसलिए तीर्थ यात्रियों के लिये, मजदूरों और प्रयटकों के लिए तो ट्रेन चलाई जायेंगी लेकिन हवाई यात्रा करने वाले लोगों के लिए हवाई यात्रा बंद रहेगी और पब्लिक ट्रांसपोर्ट भी बंद रहेगा|

सरकार लोगों के स्वास्थय का भी धयान रखना चाहती है और अर्थव्यवस्था को भी फिर से पटरी पर लाना चाहती है इसलिए रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन के लिए अलग अलग नियम बनाये गए हैं| प्रधानमंत्री मोदी कह चूके हैं कि जान को भी बचाना है और जहान को भी चलाना है और इसी बात को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है|

प्रधानमंत्री मोदी पिछले कुछ दिनों से लगातार इस मुद्दे पर बैठकें कर रहे थे| 27 अप्रैल को मुख्यमंत्रियों से बातचीत करने के बाद आज प्रधानमंत्री ने वरिष्ठ मंत्रियो से के एक बैठक की और विशेषज्ञों कि रॉय लेने के बाद लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लिया गया|

भारत में 4 मई से लॉकडाउन की स्थिति का ब्यौरा

Details of Lockdown Status From  4th May In India

हमारे देश में 733 जिलों को कोरोना संक्रमण के केसों को देखकर रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटा गया है इनमें 130 जिले रेड जोन में आते हैं, 284 जिले ऑरेंज जोन और 319 जिले रेड जोन में आते हैं| ग्रीन जोन का मतलब है जहां पिछले 21 दिनों में कोरोना का कोई नया केस नहीं आया है, रेड जोन वो है जहां लगातार मामले सामने आ रहे हैं जहां स्थिति सबसे ज्यादा खतरनाक है रेड जोन का निर्धारण इस बात से किया जाता है कि इन इलाकों में कितने Active केस हैं कितने दिन में यहाँ मामले दुगने हो रहे हैं और यहाँ पर कितनी टैस्टिंग हो रही है और प्रशाशन की टीमों का वहां पर क्या फीडबैक है|

इसलिए जो सबसे खतरनाक जोन है वो है रेड जोन| रेड जोन का मतलब है ये कोरोना के खतरे का प्रतिक है जो इलाके ग्रीन जोन या रेड जोन दोनों में नहीं है उन्हें ऑरेंज जोन में रखा गया है| हम आपको बताते हैं कि नई नीतियों के मुताबिक 4 मई से आपको क्या क्या छूट मिल सकती है|

लेकिन उससे पहले आपको ये जानना जरुरी है कि कौन कौन सी Service अब भी नहीं खुलेगी फिर चाहे जोन कोई भी हो|

भारत में 4 मई से लॉकडाउन की स्थिति में कौन कौन सी सर्विसेज नहीं खुलेंगी

Who Is The Services In The Period of Lockdown Are Not Opened?

17 मई तक हवाई यात्रा नहीं होगी, ट्रेन नहीं चलेगी, मैट्रो भी नहीं चलेगी, किसी राज्य की बस दूसरे राज्य में नहीं जाएगी, जरुरी सेवाओं से जुड़े लोगों को छोड़कर एक राज्य से दूसरे राज्य में आना जाना बंद रहेगा, स्कूल कॉलेज बंद रहेंगे, शॉपिंग मॉल, सिनेमाहॉल, होटल, जिम इत्यादि सब बंद रहेंगे, मंदिर मस्जिद, चर्च, गुरूद्वारे सब बंद रहेंगे, धार्मिक, सामाजिक, राजनैतिक और खेल के कार्यक्रम सब बंद रहेंगे, शाम 7 बजे से लेकर सुबह 7 बजे तक जरुरी सेवाओं को छोड़कर कोई आवाजाही नहीं होगी| 65 वर्ष से ऊपर की आयु के लोग और 10 वर्ष से कम आयु के बच्चे और गर्भवती महिलाएं घर से बाहर नहीं निकलेंगी|

लेकिन 3 मई के बाद आपको अपने इलाके और राज्य के हिसाब से कई रियायतें मिल जाएगी| जैसे हम आपको रेड जोन के बारे में बताते हैं अगर आपका इलाका रेड जोन में है तो सबसे खतरनाक जोन है| जिससे आपको 3 मई के बाद क्या छूट मिल सकती है इसमें सर्त यह है कि आपका इलाका कन्टेनमेंट जोन से बाहर होना चाहिए कन्टेनमेंट जोन का मतलब ये है कि जो इलाका कोरोना संक्रमण का हॉट स्पॉट है, हॉट स्पॉट के अंदर किसी तरह की कोई छूट नहीं है लेकिन रेड जोन में कन्टेनमेंट जोन के बाहर जो रियायतें मिलेगी उनमें शहरी इलाकों में कंपनियों के ऑफिस खुल सकेंगे लेकिन उन्हें 33% कर्मचारियों के साथ ही काम करना होगा बाकी कर्मचारियों को घर से बाहर काम करना होगा|

फैक्ट्रियां खुल सकेंगी जिन फैक्ट्रियों को छूट दी गई उनमें दैनिक उपयोग के सामानों का उत्पादन करने वाली फैक्ट्रियां, दवाओं और मैडिकल उपकरण बनाने की पूरी प्रक्रिया से जुडी फैक्ट्रियां, आई टी हार्डवेयर बनाने वाली फैक्ट्रियां, जुट उद्योग से जुडी फैक्ट्रियां, पैकेजिंग से जुडी मैनुफेक्चरिंग यूनिट शामिल हैं|

शहरी इलाकों में निर्माण कार्य भी शुरू हो सकेंगे, लेकिन ये वही पर होगा जहां निर्माण कार्य पर मजदुर होंगे क्योंकि बाहर से मजदुर लाने की इजाजत नहीं होगी| शॉपिंग मॉल, बाजार और मार्केट कॉम्प्लेक्स बंद रहेंगे लेकिन शहरी इलाकों में मोहल्ले और कालोनी की जो दुकानें हैं वो खुली रहेंगी| गृह मंत्रालय ने स्प्ष्ट किया है कि गैर जरुरी सामान की दुकानें, शराब के ठेके रेड जोन में नहीं खुलेंगे| गैर जरुरी सामान की दुकानें और शराब के ठेके ऑरेंज और ग्रीन जोन में ही खुलेंगे|

Liquor contracts will be open in Green Zone in Lockdown 3 from May 4
Liquor contracts will be open in Green Zone in Lockdown 3 from May 4

ऑनलाइन शॉपिंग सिर्फ बहुत जरुरी सामान के लिए ही कर पायेंगे, रेड जोन में सिर्फ पर्मिशन मिलने के बाद ही फोर व्हीलर चल सकेंगे, ड्राइवर के अलावा अधिकतम एक गाड़ी में दो ही लोग बैठ पायेंगे, वाइक पर पिछली शीट पर कोई नहीं बैठ सकेगा, साईकिल रिक्सा, ऑटो, टैक्सी, कैव सर्विस, बस, सैलून, स्पा को रेड जोन में अब भी मजूरी नहीं दी गई है लेकिन रेड जोन में ग्रामीण इलाकों में बहुत सारी रयायते दी गई हैं|

ग्रामीण इलाकों में सभी उद्योग और निर्माण कार्य में मजूरी दे दी गई है, शॉपिंग मॉल को छोड़कर सभी दुकानें खुल सकती है| सभी तरह के कृषि कार्यों के लिए छूट दी गई है|

3 मई के बाद ऑरेंज जोन में टैक्सी और कैब को भी सर्तो के साथ मजूरी मिलेगी एक गाड़ी में एक ड्राइवर और 2 पैसेंजर ही बैठ सकते हैं, लेकिन हम अपने जिले से बाहर नहीं जा पायेंगे|

3 मई के बाद ग्रीन जोन में स्कूल, कॉलेज, शॉपिंग मॉल, बाजार, सिनेमाहॉल, धार्मिक स्थल यहाँ पर भी बंद रहेंगे लेकिन 3 मई के बाद दूसरी सभी गतिविधियां ग्रीन जोन में शुरू हो जाएँगी| ग्रीन जोन की सबसे बड़ी छूट यह है कि अब यहाँ बसें चल सकेंगी लेकिन बसों की सीटों कि क्षमा से 50% लोग ही सफर कर सकेंगे| ग्रीन जोन में मैडिकल स्टोर, अस्पतालों की OPD खोलने की प्रमिशन दे दी गई है| लेकिन कन्टेनमेंट जोन के अंदर इनकी इजाजत नहीं दी गई है|

Shopping malls will not open in lockdown 3 from May 4
Shopping malls will not open in lockdown 3 from May 4

17 मई तक भारत के लॉकडाउन 54 दिन पुरे हो जायेंगे कई देशों के मुकाबले भारत का लॉकडाउन काफी लम्बा है जबकि कई देश इसके मुकाबले कम, छोटे लॉकडाउन करने के निर्णय ले रहे हैं|

आइये अब बाकि दुनियां पर नजर डालते हैं इटली में 9 मार्च से लॉकडाउन चल रहा है और अब तक इसके 52 दिन हो चुके हैं, स्पेन में 14 मार्च से लेकर 43 दिन तक सम्पूर्ण लॉकडाउन रहा और 26 के बाद इसमें आंशिक छूट दी गई| ईरान में 14 मार्च से 18 अप्रैल तक यानि 35 दिनों का सम्पूर्ण लॉकडाउन रहा, अर्जेन्टीना में 21 मार्च से लॉकडाउन है जिसे अब 10 मई तक बड़ा दिया है|




इसलिए

हम सब भारतीयों से

निवेदन है कि कोरोना महामारी से बचने के लिए

अपने घरों में रहे और सुरक्षित रहे|

See Something Here Very Important

4 COMMENTS

  1. देश दुनिया की सभी खबरों को जानने के लिए आप मेरे news website पर आये.
    यहाँ पर हमेसा लेटेस्ट news पोस्ट किये जाते है।
    धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.